जिंदगी तू क्या है ?

0
696

जिंदगी तू क्या है ?
कौन है तू ?
कहाँ ढूंढू तुझे
कहाँ मैं पाऊं ?
कहाँ कैद है तू …..?
धन दौलत में है …
या है सुकून के पलों में ?
बुनते सपनों में है या ..,
जागती आंखों में है तू ?
कोरी कल्पना में बसती है
या ….
कठोर यथार्थ में है तू ?
कह री जिंदगी
कहाँ है तू ?

– डॉ. संगीता ठक्कर

मेरा व्यक्तित्त्व किसी परिचय का मोहताज नहीं
यह तो मात्र एक बीज है, वटवृक्ष नहीं
लेखन जूनून है मेरा, यह कोई व्यवसाय नहीं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here